Advertisement

Tata कब तक डीजल कारों का उत्पादन जारी रखेगी?

भारतीय कार खरीदार डीजल इंजन को उनकी फ्यूल एफिशिएंसी और विश्वसनीयता के कारण पसंद करते हैं। हालांकि, सख्त उत्सर्जन मानदंडों (एमिशन नॉर्म) ने बहुत सारे कार निर्माताओं के इन इंजनों पर रोक लगा दी है। लेकिन टाटा मोटर्स जैसे कुछ वाहन निर्माता अभी भी अपनी लोकप्रिय कारों के साथ डीजल इंजन पेश करते हैं।

कंपनी ने अब साफ कर दिया है कि वह डीजल इंजन का उत्पादन तब तक जारी रखेगी जब तक उत्सर्जन मानदंड इसकी अनुमति नहीं देते।

Tata कब तक डीजल कारों का उत्पादन जारी रखेगी?
Tata Altroz

टाटा पैसेंजर इलेक्ट्रिक मोबिलिटी लिमिटेड के मुख्य कमर्शियल अधिकारी विवेक श्रीवत्स ने हाल ही में डीजल कारों की मांग में कंपनी के विश्वास की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि वैकल्पिक ईंधन की ओर उद्योग के झुकाव और सरकार द्वारा क्लीनर प्रौद्योगिकियों पर जोर देने के बावजूद, कंपनी अभी भी डीजल से चलने वाले वाहनों में कार खरीदारों से रुचि देख रही है।

डीजल की लगातार मांग

श्रीवत्स ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि हाल ही में संपन्न Tata Altroz Racer Media Drive ने डीजल की मांग पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि बाजार, विनिर्माताओं और नियामकीय संस्थाओं ने डीजल को गौण स्थिति में पहुंचा दिया है, लेकिन ग्राहकों की मांग कुछ और ही कहानी बयां करती है।

Tata कब तक डीजल कारों का उत्पादन जारी रखेगी?

उन्होंने खुलासा किया कि Tata Altroz, जो ब्रांड की प्रीमियम हैचबैक है, इस मांग का प्रमाण है। वर्तमान में, अल्ट्रोज़ की बिक्री में डीजल वेरिएंट की हिस्सेदारी 8% है, जो एक महत्वपूर्ण आंकड़ा है। उन्होंने कहा कि बिक्री में पेट्रोल और सीएनजी का हिस्सा 61 प्रतिशत है।

इसी तरह, Tata Nexon, जो वर्तमान में भारत में सबसे लोकप्रिय सब-कॉम्पैक्ट एसयूवी में से एक है, में डीजल इंजन की अधिक मांग देखी गई। Nexon SUV की कुल बिक्री में 2023 में डीजल पावरप्लांट से आने वाली 16 प्रतिशत शामिल थी।

भारतीयों का डीजल प्रेम

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि भारतीय कार खरीदारों का डीजल वाहनों से बहुत लगाव है। अब इसके पीछे कई कारण हैं। डीजल इंजन पारंपरिक रूप से अपनी बेहतर ईंधन दक्षता के लिए जाने जाते हैं। पेट्रोल इंजन की तुलना में, ये मोटर कम चलने वाली लागत की पेशकश करते हैं, जो भारत जैसे मूल्य-संवेदनशील बाजार में एक महत्वपूर्ण कारक है।

Tata कब तक डीजल कारों का उत्पादन जारी रखेगी?

इसके अतिरिक्त, डीजल इंजन बेहतर टॉर्क प्रदान करते हैं, जो उन्हें भारतीय कारों के भारी भार की स्थिति के लिए विशेष रूप से अधिक उपयुक्त बनाता है। एक और बड़ा कारण यह है कि ऐतिहासिक रूप से, भारत में डीजल ईंधन पेट्रोल से सस्ता रहा है। इस वजह से कई खरीदार देश में डीजल कार खरीदना पसंद करते हैं।

डीजल इंजन के साथ टाटा का भविष्य

अब आते हैं टाटा मोटर्स और इसके डीजल इंजन के विषय पर। कंपनी ने खुलासा किया है कि कड़े बीएस 6 उत्सर्जन मानदंडों के बावजूद, जिसके कारण कई डीजल इंजनों को बंद करना पड़ा, टाटा मोटर्स अपने डीजल पोर्टफोलियो को बरकरार रखने में कामयाब रही है।

कंपनी ने इन नियमों को लागत प्रभावी ढंग से पूरा करने के लिए Nexon और Altroz में अपने 1.5-लीटर डीजल इंजनों को सफलतापूर्वक अपग्रेड किया। मीडिया से बातचीत के दौरान, श्रीवत्स ने इस बात पर प्रकाश डाला कि कंपनी अभी भी डीजल पावरप्लांट के भविष्य के बारे में आश्वस्त है।

Tata कब तक डीजल कारों का उत्पादन जारी रखेगी?

वर्तमान में, Harrier और Safari 2.0-लीटर FCA-sourced डीजल इंजन द्वारा संचालित होते हैं। ये मॉडल 3,000 से 4,000 इकाइयों के बीच मासिक बिक्री के साथ बाजार में अच्छा प्रदर्शन करना जारी रखते हैं। ये मॉडल अन्य एसयूवी जैसे Jeep Compass और Meridian के साथ-साथ MG Hector और Hector Plus से भी बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं जो समान पावरप्लांट के साथ भी आते हैं।

आगे देखते हुए, टाटा मोटर्स अपने लोकप्रिय मॉडलों के इलेक्ट्रिक संस्करणों को विकसित करके संतुलित भविष्य की तैयारी कर रहा है। कंपनी वर्तमान में Harrier EV के विकास पर काम कर रही है, जिसके 2025 की शुरुआत में लॉन्च होने की उम्मीद है।

अपकमिंग टाटा एसयूवी

आगामी Harrier EV के अलावा, Tata Motors इस साल कुछ नई SUVs लॉन्च करने के लिए तैयार है। यहां इन अपकमिंग एसयूवी की डिटेल दी गई है। Tata Motors की ओर से बाजार में आने वाली पहली नई SUV अद्वितीय कूप-SUV डिज़ाइन है जिसमें Curvv EV है। इस एसयूवी को सबसे पहले ईवी ड्राइवट्रेन के साथ कई वेरिएंट के साथ लॉन्च किया जाएगा। इसमें डीजल और पेट्रोल पावरट्रेन भी मिलेगा।

Tata कब तक डीजल कारों का उत्पादन जारी रखेगी?
Tata Curvv coupe

इसके लॉन्ग रेंज वर्जन को 500 किमी रेंज के साथ लॉन्च किए जाने की उम्मीद है। जहाँ तक लॉन्च की तारीख की बात है, तो यह जुलाई और सितंबर FY24-25 के बीच लगभग रु. 15 लाख की शुरुआती कीमत के साथ आ सकती है। इस साल आने वाली एक और लोकप्रिय एसयूवी Tata Punch फेसलिफ्ट होगी।

नई Punch फेसलिफ्ट के कई महत्वपूर्ण बाहरी और आंतरिक अपडेट से लैस होने की उम्मीद है। लॉन्च होने के बाद इसका मुकाबला  Hyundai Exter और Maruti Suzuki Ignis जैसी माइक्रो SUVs से होगा।

स्रोत